औरैया सड़क हादसे के बाद इटावा जिला प्रशासन चेता 2500 से अधिक श्रमिकों को बसों के जरिये उनके गन्तव्य के लिए रवाना किया

बड़ी खबर
Typography

सनत तिवारी(इटावा): औरैया में हुए बड़े सड़क हादसे के बाद इटावा जिला प्रशासन चेता है जिसके चलते जिला प्रशासन के तमाम अधिकारियों ने सड़क पर उतरकर बीती रात से ही मोर्चा संभाल लिया आपको बता दें जनपद इटावा के तमाम ऐसे बॉर्डर जहाँ पर श्रमिक व तिहाड़ी मजदूर असुरक्षित यात्रा कर रहे थे प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा ऐसे तमाम श्रमिकों को इकट्ठा करके इटावा के नुमाइश पंडाल में एकत्रित किया गया।

जनपद इटावा स्थित यूपी-एमपी बॉर्डर,इटावा-जसवंतनगर बॉर्डर,इटावा-औरैया बॉर्डर पर असुरक्षित यात्रा पर जिला प्रशासन ने अंकुश लगाते हुए जिला प्रशासन ने ऐसे हजारों श्रमिकों की चिंता की है जो दूसरे प्रदेशों से असुरक्षित यात्रा कर पलायन कर रहे थे।

रात में लगभग 2 से ढाई हजार श्रमिकों को  एकत्रित किया गया जिन्हें जिला प्रशासन द्वारा रोडवेज बसों के जरिए उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए पूरी व्यवस्था की गई है। प्रशासन द्वारा 60 से अधिक बसों का प्रबंध  किया गया है जिनमें रोडवेज व  प्राइवेट बसें भी शामिल है ।

असुरक्षित यात्रा कर रहे लगभग 2 हजार से अधिक श्रमिकों को इटावा के नुमाइश पंडाल में एकत्रित कर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग व  मेडिकल परीक्षण कराया गया साथ ही साथ  सभी श्रमिकों के लिए उचित भोजन व पानी की व्यवस्था भी की गई। मेडिकल परीक्षण के उपरांत लगभग 2 हजार से अधिक श्रमिकों को 60 बसों के जरिये उनके गन्तव्य के लिए सकुशल रवाना किया गया।

पूरी जानकारी दे रहे हैं हमारे प्रतिनिधि सनत तिवारी

 

 

Youtube पर भी हमे Follow करें

हमारा Twitter एकाउंट Follow करें

Today News Bulletin

हमारा Facebook पेज Like करें

Latest News