कृषि विरोधी बिल के ख़िलाफ़ किसानों ने किया भारत बंद, विपक्ष भी दे रहा किसानों का भरपूर साथ

देश
Typography

किसान बिल के ख़िलाफ़ पूरे देश मे किसानों में खासा आक्रोश है।जगह जगह पिछ्ले कई दिनो से किसानों ने प्रदर्शन किया। आज वही किसान बिल के खिलाफ देशभर में किसान सड़कों पर उतर आए हैं।ही प्रदर्शन में विपक्ष भी ज़ोरदार भूमिका में दिखाई दे रहा है देश भर में विभिन्न किसान संगठनों ने ‘भारत बंद’ का आह्वान किया है। किसनों ने प्रदर्शन के दौरान हाईवे और रेल ट्रैक बाधित कर दी है। पंजाब में किसान रेल रोको आंदोलन चला रहे हैं। किसान सुबह से ही रेल की पटरियों पर बैठकर इस बिल के खिलाफ अपनी नाराजगी जता रहे हैं।

इस आंदोलन का असर सबसे ज्यादा हरियाणा, पंजाब और खासतौर से पश्चिम बंगाल में देखने को मिल सकता है। इसके अलावा अन्य राज्यों के साथ राजनीतिक दल भी विधेयक के विरोध में सड़कों पर उतरने के लिए तैयार हैं। किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के महासचिव ने सरकार पर हमला बोलते हुए आंदोलन के लंबे चलने की बात कही है। उन्होंने कहा कि सरकार के हमसे बातचीत न करने, इस आंदोलन को महत्व न देने से लगता है कि आंदोलन लंबा चलेगा।

वही किसानों का साथ देते हुए प्रियंका गांधी ने ट्वीट पर विपक्ष पर निशाना साधा।

 राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर किसानों का साथ दिया है।

 तेजस्वी यादव ने कृषि बिल का विरोध करते हुए  कहा कि सरकार ने हमारे 'अन्नदाता' को 'निधि दाता' के माध्यम से कठपुतली बना दिया है. #FarmBills किसान विरोधी हैं और इसलिए वो इसका विरोध कर रहे हैं. सरकार ने कहा था कि वे 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करेंगे, लेकिन ये बिल उन्हें गरीब बना देंगा. बिल के माध्यम से कृषि क्षेत्र का कॉर्पोरेटकरण किया गया है

 

Youtube पर भी हमे Follow करें

हमारा Twitter एकाउंट Follow करें

Today News Bulletin

हमारा Facebook पेज Like करें

Latest News