Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeदेशअमेरिका इज़रायल के खिलाफ हुआ दिल्ली में प्रदर्शन, अल क़ुद्स के नाम...

अमेरिका इज़रायल के खिलाफ हुआ दिल्ली में प्रदर्शन, अल क़ुद्स के नाम से तिरंगे के तले हुआ प्रदर्शन

दिल्ली – दिल्ली के जंतर मंतर में हज़ारों की तादात में मुस्लिमों ने विश्व मे हो रहे ज़ुल्म के खिलाफ आवाज़ उठाई और प्रधानमंत्री नरेंद्र को एक ज्ञापन भी सौंपा। आपको बता दें इस प्रदर्शन में सुन्नी शिया सभी मुस्लिम मौजूद थे। ज़ुल्म के खिलाफ हर रमज़ान के आखिरी शुक्रवार को विश्व क़ुद्स डे मनाया जाता है जो पूरे विश्व मे मनाया जाता है और दिल्ली में भी हर साल मनाया जाता है 

 

आईएसआईएस समेत हर आतंकवादी संगठन का विरोध

 

जामा मस्जिद के पेश इमाम मौलाना मोहसिन तकवी ने कहा कि हमारा ये प्रदर्शन न सिर्फ फिलिस्तीन के लोगों के लिए है ये हिंदुस्तान से वो आवाज़ है जो हमेशा से हर मज़लूम के लिए उठती रही है। जिस देश में भी ज़ुल्म होता हैं या कोई मज़लूम मारा जाता है उस मज़लूम के समर्थन में हमेशा हर एक हिंदुस्तानी खड़ा मिलता है। चाहे सीरिया,यमन इराक आदि जहां भी बेकसूर लोगों का क़त्ल होता है वहां वहां के लिए हमारे देश की जनता आवाज़ उठाती है। 

 

 

फिलिस्तीन समेत हर मज़लूम के समर्थन में उठी हिंदुस्तान में आवाज़

विश्व मे जहां जहां भी ज़ुल्म बड़ रहा है उसके खिलाफ दिल्ली में विरोध प्रदर्शन होता है। जहाँ शिया सुन्नी सभी मुस्लिम एक साथ खड़े हुए। फिलिस्तीन में हो रहे ज़ुल्म के खिलाफ भी विरोध प्रदर्शन हुआ।  साथ ही साथ फिलिस्तीन में बैतूल मुकद्दस को आज़ाद करने की आवाज़ उठाई।

 

 

 

 

सुन्नी शिया के साथ अतुल अंजान भी मौजूद

 

वहीं इस अल क़ुद्स के दिन सभी धर्म के लोगों के साथ साथ सीपीआई के नेता अतुल अंजान भी मौजूद थे। अतुल अंजान ने कहा कि जिस जिस का जो हक़ होता है उसे मिलना चाहिए किसी के साथ ज़ुल्म नही होना चाहिए।

 

 

ज़ालिमों का समर्थन करने वालों का जलाया पुतला

 

जिस देश मे भी ज़ालिमों की हिमायत ली जाती है उन सब का पुतला भी संसद मार्ग पर जलाया गया। साथ ही साथ आतंकवादी संगठनों का पुतला जलाया गया। आईएसआईएस समेत अलकायदा ,तालिबान जैसे दहशतगर्द संगठनों के खिलाफ भी आवाज़ उठाई। आपको बता दें इराक में भी 39 भारतीय नागरिकों का आईएस के आतंकियों के ज़रिए क़त्ल करदिया गया था, उन 39 भारतीयों की आवाज़ भी उठाई गई।

 

 

 

पीएम मोदी को दिया मेमोरंडम

 

वहीं इस प्रोटेस्ट के होने के बाद मजलिस के ओलमा ए हिन्द के प्रतिनिधि मंडल ने पीएम मोदी को एक मेमोरंडम दिया जिसमें दुनिया भर में हो रहे ज़ुल्म के खिलाफ आवाज़ उठाने और फिलिस्तीन में मस्जिद के अक़्सा की रिहाई की बात की। साथ ही विश्व मे शांति की भी भारतीयों के ज़रिए बात की।वहीं इस प्रोग्राम में मौलाना मोहसिन तकवी, जलाल नक़वी,मज़हर हसन नक़वी, इमरान अली, अज़हर अब्बास,इरफान, मज़हर अब्बास ग़ाज़ी, मोहम्मद हैदर, ग़ुलाम अली, मरदान अली, रिज़वान हैदर, मोहम्मद अस्करी, जिनान असग़र,तक़ी समेत कई मौलाना और नौजवान नौजूद थे।


 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments