Tuesday, June 25, 2024
No menu items!
Homeदेशदंगो से दहला था नार्थ ईस्ट दिल्ली, फाज़िया ने 90 प्रतिशत से...

दंगो से दहला था नार्थ ईस्ट दिल्ली, फाज़िया ने 90 प्रतिशत से ज्यादा नंबर लाकर कर दिया सबका मुंह बंद

सीलमपुर में पली बढ़ी पूर्वी दिल्ली में स्थित एक झोपडी फ़ज़िया और उनके बड़े परिवार के लिए आसान नहीं। केवल दो छोटे कमरों में रहना 6 लोगों के साथ  काफी मुश्किल भरा है। फ़ज़िया के परिवार में उस समय हाहाकार मच गया। जब 3 साल पहले उसके पिता की मृत्यु हो गई। आर्थिक बोझ उसके बड़े भाई पर पड़ा, उसने स्कूल छोड़ दिया, और अब वह स्थानीय बाजार में एक मजदूर के रूप में काम करते हुए हर महीने 6000 रुपये कमाता है।

फाज़िया ने अपनी कक्षा 12 की सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं में 96%  हासिल कर नाम किया जो उसके परिवार के सदस्यों के लिए आशा की किरण है। उसने अंग्रेजी में 95, हिंदी में 96, इतिहास में 94, राजनीति विज्ञान में 97 और भूगोल में 97 अंक हासिल किए हैं। फ़ाज़िया की माँ कैंसर से पीड़ित है, जबकि फ़ाज़िया की सबसे छोटी बहन अपनी आर्थिक समस्याओं के कारण गंभीर रूप से कुपोषित है।फ़ाज़िया ने आगे बताया कि ‘’मैं ट्यूशन नहीं दे कर सकती थी और इससे मुझे बहुत चिंता हुई। मुझे केवल आशा पर भरोसा था कि मुझे  सैंपल पेपर से मदद मिली जिससे मुझे अपनी परीक्षा की तैयारी करने में आसानी हुई। आशा टीम के सदस्यों ने मार्गदर्शन दुखाया और मुझे भावनात्मक समर्थन प्रदान किया जब मुझे इसकी सबसे अधिक आवश्यकता थी।  बता दे फ़ाज़िया कहती है वह भविष्य में एक शिक्षक बनना चाहती है। वर्तमान में वह दिल्ली विश्वविद्यालय से अंग्रेजी ऑनर्स की डिग्री का अध्ययन करना चाह रही है।बता दे आशा कम्युनिटी हेल्थ एंड डेवलपमेंट सोसाइटी पूरे समुदाय-आधारित स्वास्थ्य सेवा, सशक्तीकरण, वित्तीय समावेशन, शिक्षा और पर्यावरण सुधार के लिए प्रशिक्षण देती है और स्लम समुदायों को उनके बुनियादी मानवाधिकारों को प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करती है। इस संस्था के संस्थापक पद्मश्री डॉ किरण मार्टिन हैं ।

जिन्होंने 1988 में दिल्ली के एक स्लम में हैजा का इलाज करने वाले बाल रोग विशेषज्ञ के रूप में अपना मेडिकल करियर शुरू किया था। डॉ मार्टिन के नेतृत्व में आशा के कार्यक्रमों ने दिल्ली में 900,000 से अधिक लोगों और 100 झुग्गी बस्तियों को लाभान्वित किया है और भारत में राष्ट्रीय कार्यक्रमों के लिए मॉडल बन गए हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments