Saturday, April 13, 2024
No menu items!
Homeदेशअगर आप जाने वाले हैं चार धाम की यात्रा पर तो ये...

अगर आप जाने वाले हैं चार धाम की यात्रा पर तो ये खबर ज़रूर पढ़ लें।

सिक्स सिग्मा रखेगा ‘शिव भक्तों’ को निरोग

चार केदार धाम पर श्रद्धालुओं को मिलेंगी चिकित्सा सुविधाएं

 

दिल्ली- पांडवों को पाप से मुक्ति दिलाने वाले आदि देव ‘शिव’ के धाम पर लोगों को पापों से मुक्ति दिलाने से तो नहीं, लेकिन इस बार उन्हें स्वस्थ रखने का सुअवसर सिक्स सिग्मा हाई आॅल्टीट्यूड मेडिकल रेस्क्यू को जरूर मिला है। संस्थान की ओर से कपाट खुलने के साथ ही चार केदार पर मेडिकल की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। 

 

सिक्स सिग्मा हाई आॅल्टीट्यूड मेडिकल रेस्क्यू के सीईओ डॉ. प्रदीप भारद्वाज ने चिकित्सा सुविधाएं देने के विषय में जानकारी देते हुए बताया कि संस्थान की ओर से केदारनाथ पर मुख्य कैम्प लगाया जाएगा। इसके अलावा द्वितीय केदार मद्महेश्वर, तृतीय केदार तुंगनाथ और त्रियुगीनारायण में भी स्वास्थ्य शिविर लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि संस्थान की मेडिकल टीम में 10 डॉक्टरों समेत 80 वॉलंटियर्स भी अपना सहयोग प्रदान करेंगे। डॉ. भारद्वाज ने बताया कि संस्थान की मेडिकल टीम 25 अप्रैल को सवेरे दिल्ली से प्रस्थान करेगी। रुद्रप्रयाग में रात्रि विश्राम करने के बाद मेडिकल टीम केदारनाथ के मुख्य कैंप की ओर जाएगी। 

सिक्स सिग्मा हाई आॅल्टीट्यूड के डायरेक्टर और नेशनल ई-गवर्नेंस पुरस्कार विजेता डॉ. प्रद्वीप भारद्वाज ने वॉलंटियरों को यात्रा के दौरान होने वाली कठिनाइयों से अवगत और जोश भरते हुए कहा, ‘आप सभी सौभाग्यशाली है कि केदारनाथ यात्रा के दौरान चिकित्सा सेवा देने के लिए आपका चुनाव किया गया है। आप सभी से सिक्स सिग्मा की कार्यशैली और गुवत्ता के अनुरूप कार्य करने की अपेक्षा है। यात्रा के दौरान घटने वाली किसी भी विकट परिस्थिति से निबटने के लिए स्वयं को हर समय तैयार रखें। जिससे ज्यादा से ज्यादा श्रद्धालुओं को संस्थान की ओर से चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराई जा सकें।’ 

 

डॉ. भारद्वाज ने मेडिकल कैम्पों के विषय में बताया कि तृतीय केदार तुंगनाथ में आशीष शर्मा, बलदेव बत्रा व नकुल कौशिक शिविर संचालन का कार्यभार संभालेंगे। वहीं, द्वितीय केदार मद्महेश्वर में पैरामेडिकल स्टाफ के साथ शुभम कुमार और सिद्धांत शर्मा कैम्प का संचालन करेंगे। वहीं त्रियुगीनारायण में सिक्स सिग्मा के प्रशिक्षित वॉलंटियरों के साथ संजीव कुमार चिकित्सा शिविर का कार्यभार संभालेंगे। इसके अलावा केदारनाथ में स्थापित मुख्य कैम्प की कमान भीम बहादुर पुन, देबजीत नायक, भारत शर्मा व सिक्स सिग्मा हाई आॅल्टीट्यूड की निदेशक एवं भारत में महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए प्रदान किए जाने वाले ‘नारी शक्ति पुरस्कार-2018 ’ से सम्मानित डॉ. अनीता भारद्वाज के साथ डॉ. प्रदीप भारद्वाज स्वयं संभालेंगे। 

 

सिक्स सिग्मा हाई आॅल्टीट्यूड मेडिकल रेस्क्यू की टीम अब तक कई दुर्गम स्थानों पर मेडिकल सेवाएं दे चुकी है। सिक्स सिग्मा हाई आॅल्टीट्यूड मेडिकल रेस्क्यू द्वारा लगाए गए विभिन्न मेडिकल कैम्पों में आ तक 53,889 पीड़ितों का इलाज किया जा चुका है। संस्थान की हाई आॅल्टीट्यूड रेस्क्यू टीम ने कैलाश मानसरोवर यात्रा के दौरान सिक्किम के डोल्मा पास में 19500 फीट की ऊंचाई पर चिकित्सा शिविर लगाया था, जिसमें संस्थान की टीम ने 750 से अधिक पीड़ितों को चिकित्सा सहायता दी थी। इसके अलावा 2015 में नेपाल में आए भीषण विनाशकारी भूकंप में गोरखा जिले में सिक्स सिग्मा हाई आॅल्टीट्यूड मेडिकल रेस्क्यू टीम के साथ सबसे पहले पहुंचकर आपदा से पीड़ित 1700 से अधिक लोगों की सहायता की थी। इसके अलावा 2014 में श्री अमरनाथ यात्रा के दौरान 11,290 श्रद्धालुओं को चिकित्सा सेवा देकर उनको नवजीवन प्रदान किया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments