Saturday, April 13, 2024
No menu items!
Homeदिल्ली-एनसीआरछोटा राजन ने राष्ट्र सेवा की है - हिन्दू महासभा

छोटा राजन ने राष्ट्र सेवा की है – हिन्दू महासभा

हिन्दू महासभा ने छोटा राजन का पक्ष लिया है

दिल्ली – हिन्दू महासभा के अध्यक्ष जितेंद्र ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि छोटा राजन ने देश के हित में काम किया है, उसे मुक्त करना चाहिए और भारत रत्न से भी सम्मानित करने चाहिए।


अखिल भारत हिन्दू महासभा ने साथ ही जेल में बंद छोटा राजन के साथ होली मनाने की भी बात की है। संगठन के अध्यक्ष जितेंद्र ने कहा कि छोटा राजन ने ऐसा कोई काम नही किआ जो देशद्रोह हो, उसने दाऊद के गुर्गों को भी खत्म किया है। इससे राष्ट्र की सहायता हुई है। अखिल भारत हिन्दू महासभा का कहना है कि छोटा राजन को भारत रत्न देना चहिये और वीर चक्र से सम्मानित करना चाहिए। साथ ही कहा कि भारत सरकार से भी हम मांग करेंगे और उसे जल्द ही रिहा किया जाए।
वहीं 30 जनवरी को हिन्दू महासभा ने तिहार जेल के डीजी को पत्र लिखा था कि जेल में भी होली मनाई जाए। और अगर होली का त्यौहार नही मनाया जाता है तो फिर जेल में इफ्तार, क्रिसमिस जैसे त्यौहार भी हम जेल में नही मनाने देंगे।

देखिये वीडियो – अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह ने क्या कहा

 

हमारी मांग ये ही है कि या तो हिन्दू त्योहारों को मनाने की अनुमति दे सरकार या कोई भी त्यौहार नही मनाया जाए।
ये हर व्यक्ति का अधिकार है।

वहीं कोर्ट ने छोटा राजन को जेल में भेज रखा है के जवाब में जितेंद्र ने कहा कि सिर्फ छोटा राजन पर आरोप लगे है , आरोप जब तक साबित नही हो जाता तब तक उसे जेल में नही रखना चाहिए। आरोप को खंडन करने का मौका देना चाहिए। छोटा राजन ने देश की सेवा की। उन्होंने राष्ट्र की सेवा की। उसने दाऊद के गुर्गों को चुन चुन के मारा है। ये काम सराहनीय है।

वहीं आपको बता दें 1915 में स्थापित हुआ अखिल भारत हिन्दू महासभा एक हिंदूवादी संगठन है, जो बाद में राजनीति पार्टी के रूप में सामने आया था। 2005 तक लगभग इसके कई विधायक भी थे। लेकिन कुछ विवादों की वजह से इसका रजिस्ट्रेशन कैंसिल हो गया था जिसकी वजह से चुनाव नही लड़ पाए थे। और अब आपसी विवाद भी खत्म ही हो रहे हैं अब फिर से हिन्दू महासभा चुनाव लड़ने की भी सोचेगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments