Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeइंसानियत के रखवालेफातिमा जहरा की शिक्षा विश्व की महिलाओं के लिए प्रेरणा स्रोत: मौलाना...

फातिमा जहरा की शिक्षा विश्व की महिलाओं के लिए प्रेरणा स्रोत: मौलाना कुर्रतुल्लेन मुजतबा

V.o.H News: (रिपोर्टर-शहजाद आब्दी ) नौगावां सादात मदरसा जामिया तुल मुन्तजिर में रसूल हजरत मोहम्मद कि एकलौती बेटी जनाबे फातिमा जहरा की विलादत पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया! सेमिनार का शुभारम्भ कुरआन पाक कि तिलावत के साथ किया गया, तिलावत अकबर अली कर्गिली व निज़ामत नासिर आज़मी ने कि!

 

जनाबे फातिमा जहरा की शिक्षा विश्व की महिलाओं के लिए प्रेरणा स्रोत है उन्होंने महिलाओं को अपने हक के लिए जागरुक किया उक्त बातें प्रिंसिपल मौलाना कुर्रतुल्लेन मुजतबा साहब ने ने  सेमिनार में कही उन्होंने कहा कि फ़िदक विभिन्न पहलुओं से बहुत ही महत्वपूर्ण मसला है इसमें एक उसका इतिहास है जो खिलाफत से मिली हुई थी और फातिमा जहरा का फिदक़ा मांगना केवल एक जमीन का टुकड़ा मामला नही था बल्कि दुनिया को हकीकत से रूबरू कराना था मौलाना ने कहा कि फातिमा ज़हरा को कुछ लोगों की हकीकत को सामने लाना था की  वास्तविकता को स्थान पर लाने के लिए कायम किया जिसका पहला कदम फिदा है फातिमा ने भरे दरबार में अपने हक को मांगकर दुश्मनों के चेहरे को बेनकाब किया अंत में मौलाना ने रसूल की बेटी पर हुए जुल्म अत्याचार का बयान किया मौलाना ने कहा की फातिमा मुसलमानों के आखरी नबी की बेटी थी नबी की मृत्यु के बाद उन पर इतना जुल्म किया गया कि 18 वर्ष की आयु में ही उनका बाल सफेद हो गया फातिमा ने इस्लाम धर्म की रक्षा की और इस्लाम के ऊपर अपना बलिदान कर दिया! जनाब इराक रज़ा जैदी, प्रोफसर कलीम असग़र, मौलाना हबीब हैदर, मौलाना मीसम, मौलाना मिकदाद आदि वक्ताओं ने भी अपने विचार रखे! 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments