Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeउत्तर प्रदेशगढ्ढे में पड़ी मिली आयरन की सरकारी दवा

गढ्ढे में पड़ी मिली आयरन की सरकारी दवा

रिपोर्ट: ज़ाहिद नक़वी
अम्बेडकरनगर – स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित कार्यक्रम कैसे परवान चढ़ते हैं, इसका उदाहरण गड्ढे में फेंकी गई दवाओं से साफतौर पर मिल जाता है। बच्चों के लिए आवश्यक आयरन की दवाओं को शहजादपुर के पंडाटोला में जिस प्रकार से फेंका पाया गया इससे योजनाओं की हकीकत का अंदाजा लगाया जा सकता है।


ईफा सीरप नाम की यह दवा जुलाई 2018 में एक्सपायर होनी है, लेकिन इसका वितरण किए जाने के बजाय इसे गड्ढे में फेंक दिया गया। चिकित्सा विभाग के सूत्रों के अनुसार इस दवा को आमतौर पर विद्यालयों में बच्चों को पीने के लिए दिया जाता है। ऐसे में सवाल यह उठता है कि इस दवा को फेंकने वाला कोई स्कूल का व्यक्ति है अथवा वह स्वास्थ्य कर्मी जिसे इस दवा को स्कूल में पहुंचाने की जिम्मेदारी दी गई थी। गड्ढे में पाई गई लगभग 200 सीसी इस दवा ने स्वास्थ्य विभाग के कार्यक्रमों पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है। इस बाबत प्रभारी सीएमओ डॉ.एके गुप्त ने कहा कि मामले की जानकारी नहीं है। प्रकरण की जांच कराएंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments