Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeदेशट्रेन की निचली सीट पर यात्रा करना चाहते हैं तो देने होंगे...

ट्रेन की निचली सीट पर यात्रा करना चाहते हैं तो देने होंगे ज़्यादा पैसे

नई दिल्ली: रेल यात्रियों को नीचे की सीट (बर्थ) का विकल्प चुनने या त्योहारी मौसम में यात्रा के लिए अपनी जेब अधिक ढीली करनी पड़ सकती है. रेलवे की किराया समीक्षा समिति ने ये सिफारिशें की हैं.

यदि रेलवे बोर्ड इन सिफारिशों को स्वीकार कर लेता है तो रेल यात्रियों को नीचे की बर्थ या त्योहारी सीजन में टिकट बुक कराने पर अधिक भुगतान करना होगा.

सूत्रों ने बताया कि प्रीमियम ट्रेनों में फ्लेक्सी किराया प्रणाली की समीक्षा के लिए गठित समिति ने सुझाव दिया है कि रेलवे को एयरलाइंस और होटलों की तरह डायनामिक मूल्य मॉडल अपनाना चाहिए.

सूत्रों ने कहा कि जिस तरह से विमान में यात्रियों को आगे की लाइन की सीटों के लिए अधिक भुगतान करना पड़ता है उसी तरह ट्रेनों में भी यात्रियों से उनकी पसंद की बर्थ के लिए अधिक किराया वसूला जाना चाहिए.

सूत्रों ने कहा कि सुविधाजनक समयसारिणी तथा किसी विशेष मार्ग पर लोकप्रिय ट्रेनों का किराया बढ़ाया जा सकता है.

समिति ने यह भी सुझाव दिया है कि एक किराये के बजाय रेलवे को त्योहारी सीज़न के दौरान किराया बढ़ाना चाहिए जबकि कम व्यस्त महीनों में किराये में कमी करनी चाहिए.

इसके अलावा असुविधाजनक समय पर अपने गंतव्य पहुंचने वाली ट्रेनों के यात्रियों को रियायत दी जानी चाहिए. मसलन रात 12 से सुबह चार बजे तथा दोपहर को एक बजे से शाम पांच बजे तक पहुंचने वाली ट्रेनों के यात्रियों को किराये में रियायत दी जा सकती है.

समिति में रेलवे बोर्ड के अधिकारी, नीति आयोग के सलाहकार रविंद्र गोयल, एयर इंडिया की कार्यकारी निदेशक (राजस्व प्रबंधन) मीनाक्षी मलिक, प्रोफेसर एस. श्रीराम और ली. मेरिडियन दिल्ली के राजस्व निदेशक इति मणि शामिल हैं.

समिति ने अपनी रिपोर्ट रेलवे बोर्ड को बीते सोमवार को सौंपी है. समिति ने फ्लेक्सी किराया प्रणाली में इन बदलावों का सुझाव दिया है. इस प्रणाली में प्रीमियम ट्रेनों में किराया 50 प्रतिशत तक बढ़ जाता है जिसका विभिन्न हलकों से विरोध हो रहा है.

फ्लेक्सी किराया प्रणाली में आधार किराया प्रत्येक 10 प्रतिशत सीटों की बुकिंग के बाद 10 प्रतिशत बढ़ जाता है. यह बढ़ोतरी 50 प्रतिशत तक होती है? सूत्रों ने बताया कि समिति ने रातभर में यात्रा पूरी करने वाली और पैंट्री कार सुविधा वाली रेलगाड़ियों में प्रीमियम शुल्क का भी सुझाव दिया है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments