Saturday, May 25, 2024
No menu items!
Homeदेशकोरोना संकट से लड़ने में दुनिया की मदद के लिए दवाखाना बना...

कोरोना संकट से लड़ने में दुनिया की मदद के लिए दवाखाना बना भारत

नई दिल्ली(प्रिया सेठ): कोरोना महामारी से परेशान दुनिया के लिए भारत मदद गार साबित हो रहा है या यू कह ले की दवाखाना बनकर उभरा है।

बीते एक महीने के दौरान भारत हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन और पैरासिटामॉल की 47 लाख गोलियां, दो दर्जन से अधिक मुल्कों को मुहैया करा चुका है। संकट की इस सहायता में भारत ने हाड्रोक्सी क्लोरोक्वीन की, 28 लाख गोलियां, 25 देशों को दे कर उनकी सहायता की है।

विदेश मंत्रालय प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव के मुताबिक कोविड-19 संकट के दौरान भारत दुनिया के दवाखाने की तरह उभर कर आया है। भारत कई देशों के दवाएं और जरूरी चिकित्सा सहायता मुहैया करा रहा है। इस सिलसिलें में हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वीन और पैरासिटामॉल जैसे दवाएं जहां कई मुल्कों को सहायता के तौर पर दी गई हैं. वहीं 87 देशों को यह जरूरी दवाएं कमर्शियल ऑर्डर के तहत सप्लाई की गई। 

आपको बता दे कि भारत ने मालदीव और कुवैत जैसे देशों में अपनी चिकित्सा रैपिड रिस्पॉन्स टीमें भी भेज कर उनकी सहायता की है। इसके अलावा पड़ोसी सार्क देशों को भी भारत, कोविड संकट से निपटने में क्षमता विस्तार के लिए मदद कर रहा है। इस कड़ी में बीते दिनों जहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान रायपुर की अगुवाई में सार्क देशों के डॉक्टरों का एक प्रशिक्षण कोर्स 17-21 अप्रैल के बीच आयोजित किया गया। वहीं 4-8 मई के बीच एम्स चंडीगढ़ की आगुवाई में भारत सार्क देशों के लिए, कोविड प्रबंधन पर एक विशेष ऑनलाइन प्रशिक्षण आयोजित करेगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments