Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeदेशजन्माष्टमी के पर्व पर कोरोना का साया, चिंता में श्रद्धालु

जन्माष्टमी के पर्व पर कोरोना का साया, चिंता में श्रद्धालु

 देश भर में कोरोना के  प्रकोप के मद्देनजर सभी तीज त्यौहार पर कोरोना के चलते इस बार कोविड-19 संक्रमण के कारण श्रीकृष्ण जन्माष्टमी उत्सव फीका रहेगा।  

पूरी दुनिया में भगवान श्री कृष्ण का जन्मोत्सव जन्माष्टमी पर्व के रूप में बड़े ही श्रद्धा-भाव के साथ मनाया जाता है। इस दिन भक्त भगवान श्री कृष्ण की विधि-विधान से पूजा-अर्चना की जाती है। मन्दिरों में विशेष पूजा, अनुष्ठान और भव्य झाँकियाँ सजाई जाती हैं।

 

अ‌र्द्धरात्रि जन्म उपरान्त माखन मिश्री भोग वितरण कार्यक्रम आयोजित किए जाता है। इनमें ह़जारों की संख्या में श्रद्धालु सपरिवार शामिल होकर अपने आराध्य देव के दर्शन करते हैं, लेकिन इस वर्ष श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर कोरोना का साया मँडरा रहा है। पिछले कुछ महीनों से देश के अन्दर कोरोना के कारण त्योहारों को लोगों ने अपने अन्दा़ज में मनाया ही नहीं। वहीं, अब जो आने वाले त्यौहार हैं, उन पर भी कोरोना का संकट मँडराने लगा है। वैसे तो केन्द्र सरकार ने अनलॉक में लोगों को कई रियायतें दे दी हैं, लेकिन उसके साथ ही गाइडलाइन जारी करते हुए कुछ सख्त दिशा-निर्देश भी दिए हैं, जिसमें शारीरिक दूरी का पालन करना, फेस मास्क पहनना, सार्वजनिक स्थान पर भीड़ एकत्र न करना और मन्दिरों में भी 5-5 श्रद्धालुओं को प्रवेश करने की ही अनुमति प्रदान की गई है। प्रशासन ने फिलहाल इन त्योहारों पर किसी भी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रमों को आयोजित करने की फिलहाल अभी अनुमति प्रदान नहीं की है। कल मनाए जाने वाले श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर मन्दिर में होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों को लेकर अभी कोई रूपरेखा तय नहीं हो पाई है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments