Saturday, May 25, 2024
No menu items!
Homeदेशमहाराष्ट्र: शनिवार को कोरोना के मामलों की सबसे बड़ी संख्या आई सामने

महाराष्ट्र: शनिवार को कोरोना के मामलों की सबसे बड़ी संख्या आई सामने

रोज़ी ज़ैदी: महाराष्ट्र में कोरोना की  मार ने लोगों को अधमरा कर दिया है ।माया नगरी की रफ़्तार पर कोरोना ने ब्रेक लगा दी है। फिल्मों और ड्रामों के कैमरे को कोरोना ने घरों में क़ैद करा दिया। हर तरफ  पाबंदियां हो गई है। वहीं इन सभी के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि 30 जून के बाद लॉक डाउन की पाबंदियां बरक़रार रहेंगी।

 

हालांकि अब महाराष्ट्र में लॉक डाउन को बढ़ा कर 31 जुलाई तक कर दिया गया है । राज्य में कोरोना का खौफ़ लगातार लोगों पर हावी है इसलिए लॉकडाउन में ढील नहीं दी जा सकती ।ठाकरे ने कहा था कि राज्य की आर्थिक व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए धीरे-धीरे पाबंदियों को हटाया जाएगा ।उन्होंने यह भी कहा था चेंज वॉइस अभियान को मुंबई में कामयाबी हासिल हुई है। इस अभियान के तहत संक्रमित व्यक्तियों के नजदीकी संपर्क में आए 15 लोगों को अनिवार्य रूप से क्वारेंनटीन रखा गया था । इस अभियान की शुरुआत 27 मई को हुई थी ।मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अभियान को आगे बढ़ाने की अपील की गई है, ताकि राज्य सरकार गरीबों को खाने – पीने के लिए अनाज सस्ते में मुहैया कराकर उनके जीवन को आसान बना सकें।

 

महाराष्ट्र में शनिवार को कोरोना के 5318 नए मामले सामने आए । ये 1 दिन में मिले नए मामलों की सबसे बड़ी संख्या रही ।शनिवार तक महाराष्ट्र में 159133 संक्रमित मिल चुके थे। जबकि 7273 लोगों की जान भी जा चुकी थी। शनिवार को 4430 लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिली ।अब तक राज्य में 84245 मरीज पूरी तरीके से स्वस्थ होकर अपने घरों को लौटे हैं। महाराष्ट्र पुलिस में पिछले  48 घंटे में कोरोना के 150 मामले सामने आए ।जबकि एक जवान को जान गवानी पड़ी। वही पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या बढ़कर अब तक 4666 हो चुकी है,और मरने वाले का आंकड़ा 57 हो गया है ।

 रविवार के आंकड़े की बात करे तो महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना के 5493 मामलों ने लोगों को दहशत में डाल दिया है।156 लोगों को अपनी जान देनी पड़ी।अब तक महाराष्ट्र  में कोरोना के कुल मामले 164626 हो चुके हैं ।जिनमें से 70607 एक्टिव केस शामिल है।

महाराष्ट सरकार के अनुसार आपातकालीन स्वास्थ्य चिकित्सा आपदा प्रबंध कोषागार पुलिस को छोड़कर सभी कार्यालयों में 15 फीसदी या व्यक्ति जो अधिक हो उसके साथ काम करना होगा ।सभी निजी कार्यालय 10 परसेंट स्टाफ या 10 व्यक्तियों के साथ काम कर सकते हैं। महाराष्ट्र में बढ़ रहा कोरोना संकट लोगों के लिए चिंता का विषय  बनता जा रहा है

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments