Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeउत्तर प्रदेशनौगावां में होगी 15 किमी लम्बी रेस, बटेंगे लाखो के इनाम

नौगावां में होगी 15 किमी लम्बी रेस, बटेंगे लाखो के इनाम

V.o.H News:(शहजाद आब्दी) –  नौगावां सादात: जिला अमरोहा के तहसील नौगावां सादात में पहली बार 15 किलोमीटर लम्बी रेस (नौगावां मैराथन) प्रतियोगिता का आयोजन 15 अप्रैल को किया जा रहा है!    इसमें 17 वर्ष आयु के धावक शिरकत कर सकेंगे! नौगावां एकता संगठन व मैक्स ग्रुप मिडिल ईस्ट के के संरक्षक सय्यद हसन व उनके पुत्र इरशाद अब्बास ने बताया मैराथन में इनामी राशि बाटी जायगी! इसमें पहले नंबर पर आने वाले को क्रमश: 50001 व   दुसरे नंबर पर आने वाले को 25001  व तीसरे नंबर पर आने वाले को 150001 एवं 4 से 10 नंबर तक आने वाले को 5001 रूपये नकद इनामी राशि दी जाएगी! 

 

इरशाद अब्बास ने बताया कि प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए अभीतक लगभग 700 प्रतिभागियों का आवेदन प्राप्त हो चूका है और अनुमान के मुताबिक लगभग 2000 लोग इसमें भाग लेंगे! उन्होंने बताया कि इस प्रोग्राम के मुख्य अतिथि जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्विद्यालय के कुलपति होंगे! एवं जिलाधिकारी अमरोहा भी प्रोग्राम में शिरकत कर सकते हैं! 

ये रह्र्गा रेस का रूट
ये रह्र्गा रेस का रूट

 

कैसे शुरू हुआ मैराथन दौड़, जाने रोचक तथ्य 

हर साल विश्व में 500 से ज्यादा मैराथन दौड़ कि प्रतियोगिता आयोजित कि जाती है! मैराथन लम्बी दूरी कि दौड़ प्रतियोगिता है जिसकी दूरी 42.195 किमी यानी 26 मील और 385 गज है! ये दौड़ आमतौर पर सड़क पर दौड़ी जाती है! यह दौड़ यूनानी सेनिक फिलिपिपडिस कि हरकारे के तौर पर मैराथन के युद्ध से एंथैंस तक कि याद में स्थापित कि गयी है! लेकिन इस बात का हेरोडोट्स के वृतांत में खास तौर पर विरोध मिलता है!

 

मैराथन दौड़ आयोजित करने का विचार मिशेल ब्रेयाल को आया था, जो मैराथन को 1896 में एंथैंस के प्रथम आधुनिक ओलंपिक खेल में शामिल करना चाहते थे! इस विचार को यूनानियों तथा ओलंपिक के संस्थापक पियरे दि कुबतिर्न द्वारा खूब समर्थन मिला ! तब ये दौड़ केवल पुरुषो के लिए थी! महिलाओ का मैराथन 1984 ग्रीष्म ओलंपिक में शुरू हुआ!

शुरू में मैराथन दौड़ कि लम्बाई निश्चित नहीं थी, पर लगभग 40 किमी कि थी! मई 1921 में अंतराष्ट्रीय अव्यवसायिक एथलेटिक संघ( आईएएएफ़) ने मैराथन दौड़ कि मानक लम्बाई 42.195 किमी तय की! पहली बार ये दुरी लंदन में आयोजित 1908 ग्रीष्म ओलंपिक के मैराथन में लागु हुई थी! पर रास्ते कि वजह से अगली दो ओलंपिक में दुरी कम कर दी गयी! फिर से 1924 के ओलंपिक में 42.195 किमी दुरी कि दौड़ हुई, जो आज तक चलती आ रही है!

 

आईएएएफ़ के आकड़ो के अनुसार पुरुषो में सबसे तेज़ दौड़ने वाले इथोपिया के हेइल गेब्रसेलासिया है, जिन्होंने 28 सितम्बर 2008 को बर्लिन में आयोजित मैराथन में  2 घंटे 3 मिनट और 59 सेकंड का समय लिया था! महिलाओ में ग्रेट ब्रिटेन कि पाला रैडक्लिफ ने 13 अप्रेल 2003 को लंदन में आयोजित मैराथन में 2 घंटे 15 मिनट और 25 सेकंड का समय लिया था! 

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments