Saturday, April 13, 2024
No menu items!
Homeउत्तर प्रदेशप्रदेश सरकार गन्ना किसानों की समस्याओं की ओर नही दे रही ध्यान-श्यामू...

प्रदेश सरकार गन्ना किसानों की समस्याओं की ओर नही दे रही ध्यान-श्यामू शुक्ला

लखीमपुर खीरी(हसन जाज़िब आब्दी)-  प्रदेश में किसानों के हमदर्द हमेशा किसानों के साथ खड़े रहने वाले किसानों के मसीहा के रूप में उभर रहे युवा चेहरे श्यामू शुक्ला सुर्खियों में बने रहते है इसी क्रम में उन्होंने गन्ना किसानों की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन लोकतांत्रिक कार्यकर्ताओं ने थाना घेराव कार्यक्रम के तहत थाना का घेराव कर किसानों की समस्याओं का एक ज्ञापन सीओ आर के वर्मा को दिया।

भाकियू लोकतांत्रिक कार्यकर्ताओ ने शाम 3:00 बजे थाने का घेराव किया थाने गेट पर भाकियू लोकतांत्रिक के कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप शुक्ला उर्फ़ श्यामू ने कहा कि प्रदेश सरकार गन्ना किसानों की समस्याओं की ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है जिससे किसानों के समक्ष आर्थिक तंगी पैदा हो गई है। जिसके चलते किसान आत्महत्या जैसे कदम उठाने को विवश है।

सरकार को जगाने के लिए ही थाना घेरों कार्यक्रम किया जा रहा है गोला तहसील अध्यक्ष महेश चंद्र वर्मा एडवोकेट ने कहा की किसान देश का अन्नदाता है जब तक किसान खुशहाल नही होगा तब तक देश खुशहाल नही होगा। उन्होने गन्ना किसानो की समस्याओ का निराकरण न होने पर और जबरदस्त आन्दोलन करने की बात कही। इसके बाद घेरावस्थल पर सीओ आर के वर्मा को 15 सूत्रीय एक ज्ञापन दिया जिसमें चीनी मिलों का गन्ना ढो रहे ओवरलोड वाहनों का संचालन रोकने मौजूदा सीजन के गन्ने का भुगतान 14 दिनों में कराने गन्ना मूल्य ₹400 करने क्रय केंद्रों पर होने वाली घटतौली  रोकने, तथा ओवरलोड के नाम पर किसानो से पुलिस प्रशासन द्वारा धन उगाही की जाती है इसका विरोध किसानो के करने पर चालान काट दिया जाता है वही दूसरी तरफ पुलिस और प्रशासन की मिली भगत से खुलेआम फर्राटा भरते है जिस पर पुलिस और प्रशासन की नजर नही पड़ती या तो यू कहे की ओवरलोड चल रहे वाहनों के ट्रांसपोर्टरों से मोटी रकम वसूल कर पुलिस प्रशासन अपने संरक्षण में वाहनों को चलवा रहा है। थाना घेराव के दौरान महेश वर्मा एडवोकेट मोहन तिवारी राजाराम भारती अतुल मिश्र  सचिन शुक्ला धर्मेंद्र सिंह रवि तिवारी अरविन्द मिश्र विमल वर्मा बलजीत कौर मंजू देवी पुष्पा देवी सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता और किसान मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments