Friday, June 14, 2024
No menu items!
Homeविदेशसुषमा ने कहा, ‘साबित हुए बिना नाइजीरियन स्टूडेंट्स पर अटैक को नस्ली...

सुषमा ने कहा, ‘साबित हुए बिना नाइजीरियन स्टूडेंट्स पर अटैक को नस्ली नहीं कह सकते’

अफ्रीकी स्टूडेंट्स पर दिल्ली में हो रहे हमलों को लेकर फॉरेन मिनिस्टर सुषमा स्वराज ने कहा है कि किसी भी हमले को जांच में साबित हुए बगैर नस्ली नहीं कहा जा सकता। इस मुद्दे पर वो लोकसभा में जवाब दे रही थीं। बता दें कि मंगलवार को अफ्रीकी देशों के राजदूतों ने बयान जारी कर कहा था कि भारत इन हमलों को रोकने में नाकाम रहा है। उन्होंने इन हमलों को नस्ली बताया था।

 

 

 भारत में रहने वालों की सुरक्षा का वादा

 

– सुषमा ने कहा कि अफ्रीकी स्टूडेंट्स समेत भारत में रहने वाले हर देश के सिटिजंस की सिक्युरिटी हमारी जिम्मेदारी है।

 

– उन्होंने अफ्रीकी देशों के राजदूतों के बयान को दुखद और हैरान करने वाला बताया।

 

इंटरनेशनल लेवल पर जांच की मांग

 

– बता दें कि अफ्रीकी देशों के राजदूतों ने इन हमलों की इंटरनेशनल लेवल पर जांच कराने की मांग भी की है।

 

– डिप्लोमेट्स ने हाल ही में एक स्पेशल मीटिंग की और इस मामले की ह्यूमन राइट्स काउंसिल समेत कई अन्य बॉडीज से मामले की जांच कराए जाने और अफ्रीकन यूनियन को रिपोर्ट सौंपने की बात कही।

 

– उन्होंने कहा कि वे इस मामले की नेशनल और लोकल लेवल पर खासी आलोचना होने की उम्मीद कर रहे थे।

 

– बता दें कि 50 से ज्यादा अफ्रीकी देशों के डिप्लोमेट्स का दल भारत आया था।

 

 

 

क्या है मामला?

 

– 27 मार्च को ग्रेटर नोएडा में तीन नाइजीरियन स्टूडेंट्स पर एक बड़ी भीड़ ने हमला किया था।

 

– हमलावर 17 साल के स्टूडेंट मनीष खत्री की मौत के विरोध में प्रोटेस्ट कर रहे थे।

 

– उनका आरोप था कि मनीष की मौत ड्रग के ओवरडोज से हुई। उसे ड्रग पड़ोस में रहने वाले नाइजीरियंस ने दी थी।

 

– उसी शाम एक और नाइजीरियन स्टूडेंट पर अंसल प्लाजा मॉल में भीड़ ने हमला किया। इस घटना के मोबाइल फुटेज में दिखाई दे रहा है कि उसे स्टील की डस्टबीन, स्टूल और लात-घूंसों से बुरी तरह पीटा जा रहा है।

 

– इसके बाद 29 मार्च को शाम करीब साढ़े चार बजे ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क के पास नाइजीरियन लड़की को पर हमला किया गया। लड़की ऑटो से जा रही थी। कुछ लोगों ने ऑटो रोककर लड़की को जबर्दस्ती उतारा और उसके साथ मारपीट करके फरार हो गए।

 

– बता दें कि नाइजीरिया स्थित इंडियन हाईकमिश्नर को समन भेजा गया था। वहां की मीडिया के मुताबिक, नाइजीरिया की सरकार ने इस मामले में दोषियों को फौरन अरेस्ट करने की मांग की थी।

 

 

 

सुषमा स्वराज ने मांगी थी रिपोर्ट

 

– ग्रेटर नोएडा में 12वीं के एक स्टूडेंट की मौत के मामले में कथित तौर पर एक अफ्रीकन नाइजीरियन का नाम आने के बाद पर नाइजीरियन स्टूडेंट्स पर हमला किया गया था। इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगी थी।

 

– सुषमा ने सीएम योगी आदित्यनाथ से फोन पर भी बात की थी। योगी ने उन्हें फेयर इन्क्वायरी का भरोसा दिलाया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments