Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeविदेशअमेरिकी हमलों के खिलाफ सड़कों पर उतरे सीरियाई लोग।

अमेरिकी हमलों के खिलाफ सड़कों पर उतरे सीरियाई लोग।

अमेरिकी हमलों के खिलाफ सड़कों पर उतरे सीरियाई लोग। 

अमेरिकी हमलों के खिलाफ सड़कों पर उतरे सीरियाई लोग। 

 

रूहुल्लाह आब्दी, विशेष संवाददाता-सीरिया पर हुए हमले के बाद से पूरे विश्व मे अमेरिका के खिलाफ़ आवाज़ उठाना शुरू हो गयी है। अमेरिका,ब्रिटेन और फ्रांस की विश्व स्तर पर निंदा की गई है, जिसके बाद सीरियाई लोग सड़कों पर भी उतरे। 

रसा समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, शामी बहादुर, निहत्थे और गयूर जनता ने कल सुबह दमिश्क की सड़कों पर निकल कर शाम को अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस की आक्रामकता की निंदा और विरोध किया।

लोगों का कहना है कि एक वैसे ही सीरिया आईएस और विद्रोही के हमलों को झेल रहा है ऊपर से अमेरिका मगरमच्छ आंसूं दिखाकर उसपर और ज़ुल्म कर रहा है। अगर अमेरिका, फ्रांस को इतनी ही सीरिया की फिक्र है तो आतंकियों को यहां से भगाये। नाराज़ नागरिकों का कहना है कि अमेरिका कि वजह से ही आतंकी यहां पनाह लिए हुए है।

प्रदर्शनकारियों ने संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस और सीरिया के खिलाफ सीरिया को मानवाधिकार और अंतरराष्ट्रीय कानून के अधिकारों पर हमला किया।

 

सीरिया के प्रदर्शनकारियों, जिनमें महिलाओं और बच्चों सहित, सीरिया के खिलाफ हर तरह की आक्रामकता में सीरिया की सेना और सरकार के खिलाफ खड़ा होने का दृढ़ संकल्प था।

 

सीरिया की राजधानी दमिश्क में कल सुबह होने वाले प्रदर्शन ने दिखा दिया कि सीरियाई जनता दुश्मन के खिलाफ एकजुट हो रहे हैं और उन्होंने अपने गठबंधन और एकजुटता से जिस तरह आईएस और जभतह  नुस्रा जैसे  आतंकवादी समूहों को हराया इस बार उनके समर्थक देशों को भी मात देगी। 

 

 

गौरतलब है कि अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने रासायनिक हथियारों का बहाना बना कर बिना किसी सबूत के कल सुबह शाम पर मिसाइल हमला किया जिस पर विश्व स्तर पर तीखी प्रतिक्रिया सामने आई है। यह हमला ऐसे में किया गया जब शाम सेना ने आइएस और जभतह नुस्रा जैसे आतंकवादी समूहों को हराया था जिससे बखूबी दिखाई देता है कि अमेरिका और उसके कुछ सहयोगी आइएस और जभतह नुस्रा जैसे आतंकवादी समूहों की हार से न केवल आपका नहीं बल्कि वे आतंकवादियों को बचाने के लिए आतंकवाद का मुकाबला करने वाले सीमावर्ती देशों और आंदोलनों नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं। और सीरिया पर हमला भी इसी लिए किया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments