Saturday, September 30, 2023
No menu items!
Homeउत्तर प्रदेशअमरोहा बिजनौर में टैक्स माफिया का राज,  हो रहा है लाखों का...

अमरोहा बिजनौर में टैक्स माफिया का राज,  हो रहा है लाखों का टैक्स चोरी 

नौगावां सादात(शहजाद आब्दी): जीएसटी चोरी रोकने के लिए सरकार में बेशक टीमें बना रखी हैं लेकिन उत्तर प्रदेश में टैक्स चोरी कर रहे माफिया के आगे जीएसटी विंग भी नमस्तक नजर आ रहा है! जीएसटी विंग के अधिकारियों की ईमानदारी पर सवालिया निशान इसलिए लगाया जा रहा है,  क्योंकि उत्तर प्रदेश में बिना बिल के दो नंबर का करोड़ों का माल इधर से उधर आज आ रहा है!

और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों से माल हरियाणा पंजाब तक बिना बिल के खूब पहुंच रहा है!  लेकिन जीएसटी विंग की नजर माफिया पर क्यों नहीं पड़ रही है! ये सोचने का विषय है!  हमारे प्रतिनिधि ने इन्तेज़ार नामक टैक्स माफिया से कस्टमर बनके बात की तो उसने बताया कि अमरोहा से हरियाणा बॉर्डर तक गाडी पास कराने के हम एक गाडी पर 5500 रूपये लेते हैं, जिसके बाद आपके ट्रक ड्राईवर को हम एक लिफाफा दे देते हैं जिसके अन्दर फर्जी बिल होता है! लिफाफे के ऊपर हमारा नाम/कोड लिखा हुआ होता है! जब कोई अधिकारी हमारा लिफाफा देखता है तो गाडी को बिना चेकिंग जाने देता है! हमारी गाडी कही नहीं पकड़ी जाती है, अगर कहीं भी गाड़ी पकड़ी जाती है तो उसकी जिम्मेदारी हमारी होती है हम गाड़ी को अधिकारियों से खुद छुड़ा कर देते हैं!  और सिर्फ उत्तर प्रदेश ही नहीं पानीपत बॉर्डर तक की भी जिम्मेदारी हमारी होती है(माफिया से हुई बात के सबूत हमारे पास सुरक्षित हैं)

जीएसटी माफिया के सामने जीएसटी विंग के बौना बन जाने के कारण आर्थिक संकट से जूझ रही उत्तर प्रदेश सरकार को करोडो रुपए टैक्स का नुकसान हो रहा है! उल्लेखनीय है कि दो नंबर का माल इधर से उधर ले जाना कोई नई बात नहीं है! पिछले कई सालों से एक्साइज विभाग और अब जीएसटी विंग की नाक के नीचे दो नंबर का धंधा धड़ल्ले से चल रहा था, और अभी चल रहा है!

 

विभागीय नालायकी 

माफिया की सरगर्मी आजकल अमरोहा बिजनौर मुरादाबाद हापुड़ गाजियाबाद सहारनपुर मुजफ्फरनगर से लेकर पानीपत हरियाणा पंजाब तक चल रही है बताया जाता है कि रोजाना अमरोहा से करीब डेढ़ सौ से दो सौ ट्रक अमरोहा, नौगावां सादात, बिजनौर से  पानीपत की ओर लकड़ी या जैकेट आदि सामान लेकर फर्जी बिल के साथ जाते हैं! किसी भी गाडी पर ऑनलाइन बना हुआ बिल नहीं होता! या माल ना की बराबर कीमत का दिखाया जाता है और कम दिखाया जाता है!  टैक्स माफिया के मुताबिक़ पश्चिम उत्तर प्रदेश के सभी टैक्स अधिकारियों से टैक्स माफ की अच्छी सेटिंग है! इस लिए उसका सामान लेकर जा रहे वाहन को कोई नहीं रोक पता है!

 

सरकार को रोजाना 3 से 5 लाख रूपये का चूना

सूत्रों की मानें तो यहाँ से भेजे जा रहे सामान पर इस समय 12 से 28% तक जीएसटी है! अगर मान लिया जाए कि ट्रकों के ज़रिये रोजाना 30 से 35 लाख का माल हरियाणा, पंजाब पहुंचाया जा रहा है तो 12 से 28% जीएसटी के हिसाब से रोजाना सरकार को 3 से 5 लाख रूपये का चूना लग रहा है!

 

ऐसे चलता है टैक्स चोरी का धंधा

सूत्रों ने बताया कि क्षेत्र के लकड़ी, जैकेट आदि सामानों के कारोबारी अपने सामान को हरियाणा व पानीपत के लिए बड़े पैमाने पर माल की सप्लाई करते हैं! जिसके लिए पहले तो ट्रक मालिको से उस जगह लेजाने का किराया तय किया जाता है! उसके बाद टैक्स माफिया का काम शुरू होता है कारोबारी अपने सामान लेजाने वाली गाड़ी का नंबर टैक्स माफिया को बता देते हैं! जिसके बाद टैक्स माफिया एक लिफाफा ट्रक ड्राईवर को दे देता है और उसके बदले में कारोबारी से 5500 रूपये ले लेता है!  

सूत्रों ने बताया कि टैक्स माफिया ने अमरोहा से लेकर हरियाणा पंजाब तक अधिकारीयों से तालमेल बिठाया हुआ है जो टैक्स माफिया का लिफाफा देखते ही ट्रक को जाने देते हैं और उसमे जा रहे माल को चेक करने या बिल चेक करने की जहमत नहीं उठाते हैं!  सूत्रों की मानें तो इस समय अमरोहा बिजनौर मुरादाबाद से बिना बिल के खूब माल ढोया जा रहा है इस धंधे में इस समय क्षेत्र के 3 लोग सक्रिय हैं बताया जा रहा है कि पहले इन तीनों में विवाद चल रहा था लेकिन अब आपसी सेटेलमेंट के बाद तीनों शातिर ने एक साथ काम करना शुरू कर दिया है बताया जा रहा है कि इस समय रोजाना 140 से 150 ट्रक  माल बिना बिल के पानीपत की ओर ले जाया जा रहा है पता चला है कि कुछ लोग पिछले करीब दो दशक से यह अवैध कारोबार के जरिए धनकुबेर बन चुके हैं!  रोजाना सरकार की जेब से लाखों रुपए चोरी कर रहे हैं!  सूत्रों ने बताया कि पहले दो नंबर का काम सिर्फ बिजनौर से चलता था लेकिन अब अमरोहा क्षेत्र से भी खूब चल रहा है!  सूत्रों ने बताया कि इस समय 3 लोग इस अवैध काम में ज्यादा सक्रिय हैं!  माफियाओं के हौसले इतने बुलंद है कि वे यह कभी चेक नहीं करते कि गाड़ियों में क्या सामान भिजवाया जा रहा है हालात ऐसे हैं कि रोजाना आने वाले सैकड़ों ट्रकों में कोई ना कोई नशीले पदार्थ या समाज के लिए खतरा पैदा करने वाले सामान भी आ जा रहे हैं! 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments