Tuesday, May 28, 2024
No menu items!
Homeउत्तर प्रदेशबंदरों के आतंक से क़स्बा वासी परेशान।

बंदरों के आतंक से क़स्बा वासी परेशान।

नौगावां सादात: नगर पंचायत क्षेत्र मे बंदर आंतक का पर्याय बने हुए है। इनसे जहां राहगीरों की समस्या बढ गई है वही घर मे रखे कपड़ों को बचाना भी कठिन हो गया है। पिछले एक सप्ताह में बंदरों ने तीन लोगो को काटा है।

मास्टर मुनाफ हसन ने बताया कि इस समस्या से निजात दिलाने के लिए स्थानीय लोगो ने नगर पंचायत नौगावां सादात के लोगों से बंदरों को पकड़वाने के लिए कई बार कहा लेकिन बंदरों को पकड़ने के लिए विभाग कोई रूचि नही ले रहा है।

बन्दर झुंड बना कर चलते है। जिससे कभी कभी रोड पार करते समय अगर तेज गति से कोई दो पहिया वाहन सवार आ गया तो गिर कर चोटहिल हो जाता है। तो वही कोई रोड से पैकेट मे सामान ले कर गुजर रहा है तो बंदर उस पर झपट्टा मार देते है। सामान न छोड़ने पर उसे काट कर घायल कर दे रहे है। इसी प्रकार बंदरों का झुंड लोगो के घरों मे घुस कर कपड़ों को फाड़ कर अस्त व्यस्त कर दे रहे है। जिससे लोगो की समस्या बढ़ गई है। क़स्बा क्षेत्र के कर्बला रोड बाल्मीकि कालोनी, मेंन बाज़ार, कसबे के निकट ग्राम बीलनी मे बंदरों का बसेरा बना हुआ है। दिन मे हजारों की संख्या मे यह बंदर झुंड बना कर चलते है। पिछले सप्ताह कर्बला रोड निवासी रज़ा के 5 वर्षीय पुत्र को बन्दर ने काट लिया था। तीन दिनों पहले बाल्मीकि कालोनी निवासी श्रीमती फिरोजा को बन्दर ने थप्पड़ मारा। आज ग्राम बीलना निवासी अकबर सैफी के सात वर्षीय बेटे अमान को बन्दर ने काट लिया।

बंदरों की संख्या ज्यादा होने की जानकारी हुई है। इस सम्बन्ध में पशु चिकित्सा अधिकारी महोदय को बन्दर पकडवाने की अनुमति प्राप्त करने हेतु पत्र प्रेषित किया गया है एक दो दिनों में अनुमति मिलते ही अभियान चलाकर कुत्ते व बंदरो को पकडवाने का कार्य कर जनता को सुविधा देने का काम किया जाएगा- संदीप कुमार, अधिशासी  अधिकारी 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments