Saturday, May 25, 2024
No menu items!
Homeउत्तर प्रदेशयूपी: योगी सरकार को मीट कारोबारियों ने दी खुली चेतावनी, जानकर होश...

यूपी: योगी सरकार को मीट कारोबारियों ने दी खुली चेतावनी, जानकर होश उड़ जाएंगे… V.o.H News

वाराणसी। आर्थिक तंगी झेल रहे पूर्वांचल के मीट कारोबारियों के धैर्य का बांध सोमवार को टूट गया। वे इकट्ठा हुए और कमिश्नरी का घेराव कर दिया। साथ ही चेतावनी दी कि अगर रमजान से पहले स्लाटर हाउस खोलने की इजाजत नहीं मिली तो वे कानून तोड़ देंगे।

 

 

ऑल इंडिया कुरैशी विकास मंच, भाकपा माले एवं अलकुरैश वेलफेयर सोसाइटी के बैनर तले मीट कारोबारियों ने सोमवार को जिला मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया। करीब तीन घंटे तक मुख्यालय पर सरकार और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि सरकार ने वैध स्लाटर हाउस को भी बंद करा दिया है।

 

स्लाटर हाउस बंद होने से प्रदेश में हजारों लोगों के सामने रोजीरोटी का संकट आ गया है। एडीएम प्रशासन एमएन उपाध्याय को पत्रक सौंप धमकी भरे लहजे में कहा कि यदि रमजान पूर्व स्लाटर हाउस खोलने का आदेश नहीं दिया गया तो वे कानून तोड़ने को बाध्य होंगे। पूरे प्रदेश में जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया जाएगा।

 

बता दें कि हाईकोर्ट ने निर्देश दिया है कि मांसाहार को रोका नहीं जा सकता है। प्रदर्शन कर रहे वक्ताओं का कहना है कि स्लाटर हाउस बंद हो जाने से प्रदेश के 25 लाख लोगों के सामने रोजगार का संकट है। प्रदेश में करीब 90 फीसदी स्लाटर हाउस वैध हैं। इसके बाद भी उन्हें परेशान किया जा रहा है।

 

एनजीटी और हाईकोर्ट के आदेश की आड़ में सरकार मीट कारोबारियों का उत्पीड़न कर रही है। मुर्गा और बकरे का मीट बेचने वालों को भी पुलिस और प्रशासन परेशान कर रहा है। मीट कारोबारियों ने कहा कि रोजगार उनका संवैधानिक अधिकार है। इस बंदी के कारण लोग भुखमरी के शिकार हो रहे हैं। 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments