Tuesday, July 16, 2024
No menu items!
Homeउत्तर प्रदेशमायावती हैं देश की सबसे बड़ी ब्लैकमेलर, मैंने भी उन्ही...

मायावती हैं देश की सबसे बड़ी ब्लैकमेलर, मैंने भी उन्ही से सीखी है ब्लैकमेल‌िंग : नसीमुद्दीन स‌िद्दीकी V.o.H News

लखनऊ।नसीमुद्दीन स‌िद्दीकी और मायावती के बीच छ‌िड़ी प्रेस कॉन्फ्रेंस की जंग थमने का नाम नहीं ले रही। बसपा से न‌िकाले जाने के तीसरे द‌िन नसीमुद्दीन ने फ‌िर से प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा, कल मैंने तथ्यों और प्रमाणों के साथ मायावती एंड कंपनी के आरोपों का जवाब दिया था। कल जो पीसी मेरी प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद मायावती जी ने की और उसमें जो भी बातें रखीं वो सारी क‌ि सारी झूठ फरेब के साथ-साथ साजिश से भरी बातें थी।

 

 

उन्होंने कहा, उनका जवाब देने से पहले मैं बता दूं क‌ि दयाशंकर जी का जो प्रकरण चल रहा उस पर मैं अपना बयान दर्ज करके आया हूं। मायावती ने कल मुझे टेपिंग ब्लैकमेलर कहा था। जबक‌ि इस तरह से उन्होंने हजारों लोगों को प्रताड़ित और अपमानित करके पार्टी से निकाल दिया।

 

नसीमुद्दीन बोले, लोग उनकी प्रताड़ना से पार्टी छोड़ गए उनमें स्वामी प्रसाद मौर्य शामिल हैं। मैंने उनकी प्रताड़ना से बचने के ल‌िए इन्हीं का शस्त्र इन्हीं के ऊपर इस्तेमाल किया है। मुझे फोन टेपिंग मायावती ने सिखाई था। ये सब मैंने किसी को ब्लैकमेल करने के ल‌िए नहीं किया था। जब मैंने उनके साथ ऐसा किया तो ये तिलमिला गईं।

 

नसीमुद्दीन ने सवाल उठाया, मैं जानना चाहता हूं क‌ि मैंने मीडिया के माध्यम से जो टेप जारी किया उससे किसको ब्लैकमेल किया? मैंने अपने बीवी बच्चों को बचाने के ल‌िए इनकी सिखाई ट्रिक अपनाई। उन्होंने कहा, मायावती की आदत मुझे बात-बात पर जेल भेजने की है। कहीं ऐसा न हो जाए इसल‌िए मैंने टेप किया। मैंने ये सब मायावती से ही सीखा है। देश में मायावती से बड़ा कोई ब्लैकमेलर नहीं है। ये मुझे दिवालिया बनाना चाहती थीं। खुद को बचाने के लिए वह हमेशा नई कहानी सुनाती हैं। उन्हें क्या पता है क‌ि टेप से छेड़छाड़ हुई।

 

सिद्दीकी ने कहा, मायावती ने कल कहा था क‌ि पार्टी से निकालने से पहले उन्हें बताया गया था क‌ि मैं टेप ब्लैकमेलर हूं अगर ऐसा था तो सतीश चंद्र ने जो आरोप लगाए थे उसके साथ टेप ब्लैकमेंलर का आरोप क्यों नहीं लगाया था।

 

नसीमुद्दीन ने कहा, मैंने पहले ही कहा था जो भी ये कहेंगी मैं उसका ही जवाब दूंगा। अब और टेप जारी करूंगा। जितना मैं इन्हें जानता हूं उतना इन्हें कोई नहीं जानता। सिद्दीकी बोले, मायावती ने कहा, इनके बेटे को फतेहपुर से टिकट दिया और वह बुरी तरह से हार गया। मैं बता दूं क‌ि इन्होंने कहा था क‌ि फतेहपुर में कंडीडेट नहीं मिल रहा है, मुस्ल‌िम को लड़ाना है अपने बेटे को लड़ा दो। मैंने कहा, हमने वहां काम नहीं किया है तो बोलीं पार्टी हित में है।

 

पार्टी के ह‌ित में बेटा वहां से चुनाव लड़ा। जब हम चुनाव जीते थे तो 2 लाख वोट में जीत गए थे। लेक‌िन वहां से मेरे बेटे को 3 लाख से ज्यादा वोट मिले, वह दूसरे नंबर पर था और ये कह रही थीं क‌ि बेटा बुरी तरह से हार गया। 2014 में मैं अपने बेटे को नहीं जिता पाया क्योंक‌ि इन्होंने मेरी ड्यूटी कहीं और लगा दी थी।

 

सिद्दीकी ने कहा, मायावती चार बार सीएम बनी तो क्या हुआ वह डूबती हुई पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। वह बोले, ये कहती हैं क‌ि इन्होंने मुझे 1991 में बांदा से चुनाव लड़ाया और जिता दिया और ये इतनी बहादुर हैं क‌ि उस वक्त खुद हार गईं। मैं तो तब इन्हें जानता भी नहीं था। मायावती ने लोगों को खूब ठगा, लोकसभा में प्रश्न पूछने तक के पैसे ले ल‌िए। मैं एक बार हारा तो सुना द‌िया और खुद क‌ितने बार हारीं। नसीमुद्दीन ने ये भी ‌ग‌िनवाया क‌ि मायावती क‌ितने बार हारीं।

 

नसीमुद्दीन ने चैलेंज किया और कहा, मायावती जी राज्यसभा के ख्वाब छोड़ दो नगर पालिका का वार्ड का चुनाव ही जीत कर बता दो तो मान जाऊंगा। उन्होंने गुरुवार की प्रेस कॉन्फ्रेंस का ज‌िक्र करते हुए कहा, उनके चेहरे पर हवाइयां छाईं थी और पसीने छोड़ रही थीं।

 

मायावती क्या जानें ममता क्या होती है

स‌िद्दीकी ने जमकर भड़ास न‌िकाली और कहा, मायावती कह रही थीं क‌ि कांशीराम ने भी कहा था क‌ि नसीमुद्दीन ठीक नहीं। कांशीराम 2003 में कोमा में चले गए थे और 2006 में उनका देहांत हो गया था। इसका मतलब ये कांशीराम के कहने के विपरीत चलती थीं। मुख्यमंत्री बनने के बाद मुझे मंत्री बनाया और 18 विभाग दिए क्यों, क्योंक‌ि कांशीराम के विपरीत चलना था? नसीमुद्दीन बोले, कांशीराम ने ‌ज‌िसके ल‌िए कहा था क‌ि म‌िशन चौपट कर देगा उसकी तारीफ में तो मायावती कसीदे पढ़ रही थीं। सतीश चंद्र ने कांशीराम का म‌िशन तबाह कर द‌िया।

 

नसीमुद्दीन ने कहा, पार्टी सतीश चंद्र ने तबाह कर दी वेंट‌िलेटर पर है पार्टी। मायावती ने कल कह ‌द‌िया क‌ि मेरी कोई बेटी नहीं। वह बोले, मायावती क्या जानें औलाद क्या होती है। वह गुस्से में बोले, तुम क्या जानों बेटा, बेटा क्या होते हैं। ममता क्या होती है। मैं डॉक्टर से बात करवा सकता हूं ज‌िसने वो बच्ची पैदा करवाई थी। वहीं स‌िद्दीकी ने कहा, मायावती लोगों से मेंबरश‌िप के नाम पर लोगों की प्रॉपर्टी ल‌िखवा लेती रही हैं। मायावती ने पीसी में कहा था क‌ि मुसलमान उन्हें बहुत पसंद करता है। सुनकर सबको हंसी आई होगी। कभी ये मुसलमान को गद्दार कहती हैं तो कभी गाली देती हैं।

 

स‌िद्दीकी बोले, मेरठ के चुनाव की र‌िकॉर्ड‌िंग सबके पास है। हाजी याकूब कुरैशी के चुनाव में इन्होंने कहा था क‌ि ये कट्टरपंथी हैं लोगों इन्हें नहीं बल्क‌ि मेरे कहने से बीजेपी को वोट दे दिया। बताइये मुसलमान इन्हें पसंद करते होंगे? जाकर मुस्लिम इलाके से नगरपालिका का चुनाव लड़ लें हैसियत पता चल जाएगी।

 

नसीमुद्दीन ने कहा, मायावती मुझ पर कभी भी अपने गिरोह से हमला करवा सकती हैं। मेरी सीएम से दरख्वास्त है क‌ि मुझे सुरक्षा दें।

 

 

नसीमुद्दीन ने फ‌िर चलाए टेप

नसीमुद्दीन ने टेप चलाकर सुनवाए और साबित करने की कोश‌िश की क‌ि उन पर मेंबरशिप का पैसा बाकी नहीं है। उन्होंने कहा क‌ि कल जो टेप सुनवाए थे उसमें मायावती उनसे फिरौती की मांग कर रही थीं।

 

 

पत्रकारों ने सवाल क‌िया क‌ि क्या आप आगे चलकर असली और नकली बसपा की लड़ाई लड़ेंगे? क्योंक‌ि आपके समर्थन में इस्तीफे हो रहे हैं। नसीमुद्दीन ने कहा, मायावती ने असली लोगों को किनारे लगा दिया। आधे से ज्यादा लोग तो ऊपर चले गए।

 

स‌िद्दीकी ने कहा, मायावती ने कहा था क‌ि तुम्हारे बीवी, बच्चे काम नहीं आएंगे। सबके गहने और प्रॉपर्टी बेच दो। नसीमुद्दीन ने कहा, मानवता के नाम पर मायावती कलंक हैं।

बता दें क‌ि बुधवार को बसपा से न‌िकाले जाने के बाद स‌िद्दीकी ने तीन पेज का प्रेसनोट जारी करके मायावती के ख‌िलाफ कई सुबूत होने की बात कही थी। वहीं गुरुवार को उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मायावती के ऊपर कई आरोप लगाए। उन्होंने बसपा सुप्रीमो और अपने बीच बातचीत के टेप मी‌‌‌ड‌िया में जारी क‌िए, उन पर पैसे मांगने का आरोप लगाया और यहां तक कहा क‌ि उनके पास कई ऐसे सुबूत हैं ज‌‌िन्हें सामने लाने पर पूरी दुन‌िया में भूचाल आ जाएगा।

 

नसीमुद्दीन की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दो घंटे बाद ही बसपा सुप्रीमो ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी ‌ज‌िसमें उन्होंने स‌िद्दीकी को टेप‌िंग ब्लैकमेलर बताया था और ये भी कहा था क‌ि अगर वाकई सुबूत है तो अाज ही क्यों भूचाल नहीं ला द‌िया। वह क‌िसी को भी ब्लैकमेल कर ले मायावती को नहीं कर सकता।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments