Thursday, April 25, 2024
No menu items!
Homeदिल्ली-एनसीआरऑनलाइन ठगी करने वाले विदेशी युवक समेत दो शातिर ठग गिरफ़्तार, फेसबुक...

ऑनलाइन ठगी करने वाले विदेशी युवक समेत दो शातिर ठग गिरफ़्तार, फेसबुक पर फर्जी नाम से भेजी थी फ्रेंड रिक्वेस्ट, दोगुना करने का लालच देकर खातों में डलवाए साढ़े आठ लाख रुपये।

V.o.H News: नदीम नकवी: हापुड़ – आनलाइन ठगी करने वाले एक नाइजीरियन और एक मिजोरम के युवक को कोतवाली और सर्विसलांस की टीम ने पकड़ा है। इन दोनों युवकों ने जिले की आबकारी

निरीक्षक के देवर को फेसबुक पर फर्जी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर अपने झांसे में फंसाया और बाद में अलग-अलग खातों में उससे करीब साढ़े आठ लाख रुपये ठग लिए। इस बात की जानकारी आबकारी निरीक्षक ने उच्चाधिकारियों को दी। हरकत में आई पुलिस ने नंबर और फेसबुक की जांच की तो मामले का पर्दाफाश हुआ है। मंगलवार को दोनों को जेल भेज दिया गया है। साथ ही नाइजीरियन

दूतावास को भी इस बात की सूचना भेजी जा रही है। मेरठ रोड स्थित ए ब्लॉक संजय विहार आवास विकास कालोनी निवासी सीमा कुमार

आबकारी निरीक्षक है। उन्होंने कोतवाली में एक मुकदमा पंजीकृत कराया था। इसमें बताया गया था कि उनके देवर मुकेश कुमार के पास दो माहीने पहले फेसबुक के माध्यम से एक फ्रेंड रिक्वेस्ट नैंसी विलियम्स के नाम से आई थी इस फ्रेंड रिक्वेस्ट को उसके देवर ने स्वीकार कर लिया था और थोड़े

दिन बाद ही दोनों के बीच मैसेंजर पर वार्ता का दौर शुरू हो गया था मैसेंजर पर बात करने के दौरान नैंसी विलियम्स ने उनके देवर को हनी ट्रैप

में फंसा लिया और तरह-तरह का प्रलोभन देकर दिल्ली के चार अलग-अलग खातों

में करीब साढ़े आठ लाख रुपये डलवा लिए। रुपये खाते में डलवाने के दौरान दोगुने करने का झांसा भी दिया गया था। इसी झांसे में आकर उसके देवर ने रुपये दे दिए। इस बात की जानकारी थोड़े दिन बाद मुकेश कुमार ने सीमा कुमार को दी तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। आनन फानन में इस बात की सूचना सीमा कुमार ने पुलिस के उच्चाधिकारियों को अवगत कराया। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर कोतवाली पुलिस ने इस मामले

को धोखाधड़ी और अन्य धाराओं में पंजीकृत किया था। पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने बताया कि इस प्रकार की वारदात की शिकायत काफी मिल रही थी। एसएचओ पंकज लवानिया और सर्विसलांस के प्रभारी राहुल चौधरी को इस घटना का पर्दाफाश करने के लिए लगाया गया था। टीम ने खातों की जांच पड़ताल करने के बाद दिल्ली के जीवन पार्क में रहे मिजोरम निवासी जोमिंग माबिया और दिल्ली के डाबड़ी में रह रहे नाइजीरियन निवासी ब्लैस्ड चार्ल्स को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार आरोपितों के पास से पुलिस को

एक लैपटॉप, दो मोबाइल फोन, एक पासपोर्ट और तीन एटीएम कार्ड बरामद हुए हैं। गिरफ्तार आरोपितों ने अपना जुर्म स्वीकार किया है। दोनों को मंगलवार को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments